जन्मदिन मुबारक

2003 में जब दिल्ली आया तो पहली मुलाकात प्रशांत से हुई. उस समय लोकसभा चुनाव (भाजपा मीडिया सेल ) से प्रशांत जुड़े थे. मिलनसार, मृदुभाषी और हरदिल अजीज मित्र को जन्मदिन की शुभकामनाएं

Comments

Popular posts from this blog

एक वरदान है पुस्तक मेला

स्वामी विवेकानंद से प्रेरणा लें युवा

डॉ. सौरभ मालवीय और लोकेंद्र सिंह की पुस्तक ‘राष्ट्रवाद और मीडिया’ का विमोचन