डॉ.साहेब भीमराव अम्बेडकर जयंती


सामाजिक समरसता के अग्रदूत बाबा साहब डॉ.भीमराव अम्बेडकर को नमन. स्वतंत्रता-प्राप्ति के पश्चात सबसे महत्वपूर्ण कार्य हमारे सामने था एक ऐसे संविधान की रचना करना जिसके माध्यम से हम उन उद्देश्यों को प्राप्त कर सकें जिसके लिए हमने स्वतंत्रता की लड़ाई लड़ी थी.

Comments

Popular posts from this blog

उदारमना अटल बिहारी वाजपेयी

सांस्कृतिक राष्ट्रवाद और मीडिया

सांस्कृतिक राष्ट्रवाद